अपनी शर्तें मनवाने के लिए युवती ने घरेलू हिंसा का केस किया है, यह कलंकित उदाहरण है – कोर्ट

कोर्ट ने गवाह व साक्ष्यों के आधार पर पाया कि उसने झूठा केस दर्ज कराया है।
समाचार पत्र मैं पूरा पढ़ें

0 Comments

There are no comments yet

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.