कालप्रियनाथ धूमेश्वर महादेव मंदिर पवाया भितरवार(ग्वालियर) स्थिति मठ का संरक्षण एवं संधारण कार्य ” मप्र तीर्थ एवं मेला प्राधिकरण ” द्वारा कराया जाएगा। नागवंश कालीन इस मठ में महाकवि भवभूति ने अध्ययन भी किया और अध्यापन भी कराया । इसकी प्रशासकीय स्वीकृति जारी हो गई है। शीघ्र भूमिपूजन कार्यक्रम सम्पन्न होगा। अब यह मठ नए…