कालप्रियनाथ धूमेश्वर महादेव मंदिर पवाया भितरवार(ग्वालियर) स्थिति मठ का संरक्षण एवं संधारण कार्य ” मप्र तीर्थ एवं मेला प्राधिकरण ” द्वारा कराया जाएगा। नागवंश कालीन इस मठ में महाकवि भवभूति ने अध्ययन भी किया और अध्यापन भी
कराया ।
इसकी प्रशासकीय स्वीकृति जारी हो गई है। शीघ्र भूमिपूजन कार्यक्रम सम्पन्न होगा। अब यह मठ नए रूप में सामने आएगा।

Dhumeshwar Mandir math pawaya gwaior

proposed rennovation of dhumeshwar mandir pawaya bhitarwar gwalior

Leave a Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.