ग्वालियर. वैसे तो जुगाड़ शब्द हमेशा ही सुर्खियों में रहता है, लेकिन यहां बात नगर निगम द्वारा जब्त किए जाने वाले कबाड़ की हो रही है, जिसका उपयोग अब शहर के लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है। गोशाला में गोवंश की सेवा कर रहे संतों ने निगम के कबाड़ से जुगाड़ करते हुए कई निर्माण कर डाले हैं। इनके लिए निगम
टेंडर करता तो लाखों रुपए खर्च करने पड़ जाते। इसमें निगम की ओर से केवल कबाड़ और वेल्डिंग मटेरियल ही
उपलब्ध कराया गया है, जिस पर गोशाला में काम कर रहे कर्मचारियों की मदद से संतों ने कई निर्माण किए हैं। इनमें कर्मचारियों के बैठने के लिए चौकी, भवन के ऊपर जाने वाली सीढिय़ां, बीमार और…

समाचार पत्र मैं पूरा पढ़ें

Leave a Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.