ग्वालियर। भोपाल और इंदौर को मेट्रोपोलिटन सिटी प्रोजेक्ट में शामिल करने के बाद अब ग्वालियर शहर को भी इसमें शामिल करने की मांग उठने लगी है। शहर में क्या आम, क्या खास सभी लोगों का यही कहना है कि अब हमें भी मेट्रोपोलिटन में शामिल किया जाए… वैसे भी हमारा ग्वालियर शहर भोपाल और इंदौर से अब किसी भी स्तर पर पीछे नहीं है। 2040 की महानगरीय संस्कृति की ओर तेजी से बढ़ रहे ग्वालियर के लिए अभी से हम सब को एक नई इबारत गढऩी होगी…

मेट्रोपोलिटन क्यों

  • नगर निगम क्षेत्र में अधिकतम 70 वार्ड ही हो सकते हैं। सरकार ने विशेष नियम बनाकर भले ही वार्ड 66 कर दिए, लेकिन बड़े वार्ड से विकास प्रभावित हो रहा…

समाचार पत्र मैं पूरा पढ़ें

Leave a Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.