ग्वालियर. शहर में 750 करोड़ से अधिक की लागत से सीवर और पानी की पाइप लाइन डालने का काम चल रहा है। इसके साथ ही उक्त प्रोजेक्ट को एडीबी की राह पर कुछ अफसर ले जाने के लिए कदम कदम पर घोटाला करने कि नियत से काम कर रहे हैं। हाल ही में करीब 23 लाख रुपए का फर्जी भुगतान कराने के लिए इंजीनियरों ने गोलमाल भाषा का उपयोग करते हुए फाइल तैयार की थी। लेकिन गड़बड़ी सामने आने पर जांच हुई तो घोटाले की सच्चाई सामने आ गई। जिससे सीवर प्रोजेक्ट से जुड़े अमृत योजना के इंजीनियरों में हडक़ंप मचा हुआ है।
बहरहाल उक्त फाइल की गहराई से पड़ताल की गई तो और भी चौकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। इसमें सभी इंजीनियरों…

समाचार पत्र मैं पूरा पढ़ें

Leave a Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.