ग्वालियर … शहर जो छूटता नहीं

ग्वालियर छोड़े ५ साल हो गए , पर अब भी मेरी यादों के बक्से का सबसे प्यारा मफलर है … ग्वालियर ! ऐतिहासिक धरोहरों के मनमोहक रंगों से बुना मफलर , अपनेपन की गरमाहट से भरा है। आइये ! जानिए कि क्यों , ग्वालियर ऐसा शहर है जो छूटता नहीं?

Category:

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “ग्वालियर … शहर जो छूटता नहीं”

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.